Xpoz-स्पेशलधनबाद-कोयलांचलबिहार एवं झारखण्ड

जेल में अमन की हत्या : गैंगवार या हाई प्रोफाइल साजिश?

धनबाद-NewsXpoz (राजीव सिन्हा 9135421800) : कोयलांचल से कोयले की अवैध कमाई ने कई अंतरप्रांतीय छोटे-बड़े गैंग्स (Gangs-of-Dhanbad) को जन्म दिया है। जो समय-समय पर जिले की विधि-व्यवस्था के साथ खिलवाड़ करने से बाज नहीं आते है। इसी गैंग्स (Gangs-of-Dhanbad) के अपराधी कोयले के अवैध कारोबार की कमाई के अलावा रंगदारी व फिरौती वसूली को भी अपना धंधा बना लिया है। जिसमे अपना वर्चस्व तथा दबदबा कायम रखने के लिए हत्याओं को अंजाम देने से नहीं चूकते है।


NewsXpoz पर ताजा खबर देखें-पढ़ें और सुने…

अमन को था अपनी जान को खतरा : धनबाद में गैंगस्टर अमन सिंह (Gangs-of-Dhanbad) की हत्या के बाद कई सवाल उठ रहे हैं। अमन सिंह ने 7 मई 2022 को मीडिया के सामने चिल्ला-चिल्लाकर कहा था कि उसकी जान को खतरा है। उसने एक बड़े घराने पर आरोप लगाते हुए कहा था कि वे उसकी हत्या करा देंगे।

इस कड़ी में जेल के भीतर गैंगस्टर अमन सिंह (Gangs-of-Dhanbad) की गोली मारकर हत्या होना एक बड़ा सवाल  है कि क्या कोयले के अवैध धंधे में गैंगस्टर अमन सिंह के बाद आशीष रंजन उर्फ छोटू की इंट्री होगी ? क्योंकि कुछ दिनों पूर्व एक और गैंगस्टर प्रिंस खान ने भी कोयले के अवैध कारोबार में शामिल होने की बात वायरल किया था।

अगर ऐसा होता है तो निश्चित तौर पर कोयलांचल (Gangs-of-Dhanbad) में खूनी संघर्ष और हत्याओं का दौर चलता दिखेगा! जरूरत है कि ऐसे गैंगस्टरों को पुलिस प्रशासन कानून के मुताबिक उनके सही सही जगह पर समय रहते पहुंचा दे। जिससे कोयलांचल में अमन-चैन बना रहे।

गैंगस्टर अमन सिंह की जेल में हुई हत्या की जिम्मेदारी आशीष ने ली : जेल में गैंगस्टर अमन (Gangs-of-Dhanbad) की हत्या की जिम्मेवारी उसके पुराने गुर्गे धनबाद के हीरापुर जेसी मल्लिक रोड के रहने वाले आशीष रंजन उर्फ छोटू ने ली है। उसने एक ऑडियो जारी कर कहा है कि इसकी तैयारी बहुत दिनों से कर रहा था। ऑडियो में उसने दावा किया कि अमन को तो कोर्ट परिसर में पेशी के दौरान मारने की तैयारी थी, मगर उसे भनक लग गई थी।

अमन ने उसकी हत्या की रची थी साजिश : आशीष रंजन उर्फ छोटू (Gangs-of-Dhanbad) ने वायरल ऑडियो में बताया कि वह अमन को बड़ा भाई मानता था, मगर कुछ पैसे के लिए उसने उसकी हत्या करने की ठान ली थी। इसलिए मरवा दिया। जेल में उसने ही हथियार पहुंचाया है। जिस आदमी ने अमन की हत्या की है, वह उसका ही नाम लेगा।

कोयलांचल के लिए अमन सिंह था एक काला अध्याय : यूपी का सुपारी किलर अमन सिंह (Gangs-of-Dhanbad) कई राज्यों में आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने में कुख्यात था। वह यूपी के अंबेडकर नगर का निवासी था। जो जिले में सुपारी किलर के तौर पर आया था।धनबाद के डिप्टी मेयर के हत्याकांड मामले में फरार चल रहे अमन सिंह को यूपी एसटीएफ ने साल 2021 में मिर्जापुर जिला जेल के बाहर से गिरफ्तार किया था और धनबाद पुलिस के हवाले किया था। तभी से वह जेल में बंद था।

इसी दौरान कुख्यात अमन सिंह (Gangs-of-Dhanbad) ने कोयलांचल में अपना गैंग खड़ा किया। जिसमे जिले के कई अपराधियों को शामिल कर अपना एक बड़ा नेटवर्क बनाया। इसमें शूटर के तौर पर धनबाद के आशीष रंजन उर्फ छोटू का नाम सामने आया। जो जमीन कारोबारी समीर मंडल की कार्मिक नगर धनबाद में हत्या के बाद चर्चा में आया। वह धनबाद जेल में रहने के दौरान अमन सिंह के संपर्क में आया था और जेल से छूटने के बाद वह कई आपराधिक घटनाओं को अमन सिंह के इशारे पर अंजाम देता रहा।

कई कांडों का आरोपी है आशीष सिंह ऊर्फ छोटू : धनबाद वासेपुर में दिनदहाड़े हुई सरफुल हसन उर्फ लाला खान की हत्या के बाद से आशीष सिंह ऊर्फ छोटू (Gangs-of-Dhanbad) की खोजबीन काफी तेज हुई, लेकिन आज तक वह हाथ नहीं आ सका। फरारी के दौरान ही उस पर कतरास के नीरज तिवारी की हत्या का भी आरोप लगा। उसका अंतिम लोकेशन वाराणसी में मिला था। तीन हत्या और फिरौती, फायरिंग और धमकी के 20 मामलों में उसका नाम अमन सिंह के साथ बताया जाता है। पुलिस लगातार उसे पकड़ने की कोशिश कर रही है, लेकिन समीर मंडल प्रकरण में जमानत पर छूटने के बाद से वह फिर से पकड़ में नहीं आया।

आशीष रंजन उर्फ छोटू की पुलिस को तलाश : पिछले वर्ष शूटर अमन सिंह के गुर्गे आशीष रंजन उर्फ छोटू सिंह (Gangs-of-Dhanbad) का पता बताने वाले को एसएसपी संजीव कुमार ने इनाम की घोषणा के लिए अनुशंसा पुलिस मुख्यालय को भेजने की बात भी कही थी। आशीष रंजन ने पुलिस की नाक में दम कर रखा है। वह लगातार व्यापारियों को फोन करके रंगदारी मांग रहा है। फरारी में आशीष रंजन पर जमीन कारोबारी लाला खान और कतरास भगत मोहल्ला निवासी नीरज तिवारी की हत्या के आरोप लग चुके हैं। इसके अलावा डेढ़ दर्जन कारोबारियों को व्हाट्सएप मैसेज और कॉल करके वह अमन सिंह के नाम पर रंगदारी मांग चुका है।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *