प्रदेशयूपी एवं उत्तराखंड

ज्ञानवापी तहखाने में पूजा का विरोध, आज मुस्लिम संगठनों का वाराणसी बंद 

वाराणसी-NewsXpoz : डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के आदेश के बाद वाराणसी के ज्ञानवापी परिसर के तहखाने में 31 साल बाद नियमित पूजा फिर से शुरू हो गई है. इस बात से मुस्लिम संगठन भड़के हुए हैं. उन्होंने ज्ञानवापी में पूजा पर रोक लगवाने के लिए गुरुवार तड़के सुप्रीम कोर्ट से लेकर हाईकोर्ट और डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में गुहार लगाई लेकिन कहीं से उन्हें राहत नहीं मिली. इसके बाद मुस्लिम नेताओं ने दिल्ली में बैठक कर अगली रणनीति पर विचार किया. वहीं ज्ञानवापी अंजुमन इंतजामिया कमेटी ने तहखाने में पूजा के खिलाफ वाराणसी में शुक्रवार को बंद का ऐलान किया है.

मस्जिद कमेटी ने किया बंद का ऐलान : ज्ञानवापी मस्जिद अंजुमन इंतेजामिया ने लेटर जारी करके वाराणसी में शुक्रवार को बंद का ऐलान किया है. अंजुमन कमेटी ज्ञानवापी के तहखाने में पूजा पाठ से बिफरी हुई है. कमेटी की ओर से जारी लेटर के मुताबिक शुक्रवार को मुस्लिम बहुल इलाकों में दुकानें बंद रखी जाएंगी और लोग सड़कों पर रहेंगे. मस्जिद कमेटी ने शुक्रवार के दिन शांतिपूर्वक नमाज पढ़ने की अपील की है. मुस्लिम संगठन की ओर से शुक्रवार को बंद के आह्वान को देखते हुए मुस्लिम इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी की जा रही है.

अदालत ने दी तहखाने में पूजा की इजाजत : बताते चलें कि एएसआई सर्वे में स्पष्ट हो गया है कि प्राचीन विश्वनाथ मंदिर में तोड़फोड़ करके ही उसे मस्जिद का रूप दिया गया. इसके सबूत आज भी परिसर में देखे जा सकते हैं. इसके बाद से दोनों पक्षों में कानूनी लड़ाई तेज हो गई है. परिसर के तहखाने में 1993 तक पूजा करते व्यास परिवार ने अपने अधिकार को दोबारा बहाल करने की इजाजत मांगी थी, जिसके बाद बुधवार को वाराणसी की जिला अदालत ने तहखाने में नियमित पूजा की अनुमति दे दी थी.

इलाहाबाद हाईकोर्ट में कल होगी सुनवाई : इस फैसले के बाद गुरुवार को मुस्लिम संगठनों ने सुप्रीम कोर्ट, हाईकोर्ट और डिस्ट्रिक्ट कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. हालांकि कहीं से भी तहखाने में पूजा पर रोक लगाने का आदेश नहीं आया. डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने इस मामले में सुनवाई के लिए 8 फरवरी की तारीख मुकर्रर की है. वहीं इलाहाबाद हाईकोर्ट इस मामले में शुक्रवार सुबह 10 बजे सुनवाई करने को राजी हो गया है. जस्टिस रोहित रंजन अग्रवाल की सिंगल बेंच इस मामले में सुनवाई करेगी. इस मसले पर मुस्लिम संगठन शुक्रवार को दिल्ली में प्रेसवार्ता करके अपनी अगली रणनीति का ऐलान भी करने वाले हैं.

वाराणसी में किए गए सुरक्षा के कड़े इंतजाम : अब ज्ञानवापी मस्जिद कमेटी की ओर से शुक्रवार को वाराणसी बंद के ऐलान से स्थिति बिगड़ने का अंदेशा जताया जा रहा है. हालांकि पुलिस प्रशासन का दावा है कि इलाके में सुरक्षा के कड़े इंतजाम है और बंद के नाम पर किसी को भी उपद्रव करने की इजाजत नहीं दी जाएगी. वहीं ज्ञानवापी परिसर में पूजा की अनुमति मिलने के बाद काशी विश्वनाथ परिसर में दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या एकाएक बढ़ गई है.

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *