बंगाल एवं अन्य राज्य

तमिलनाडु की ओर तेजी से बढ़ रहा चक्रवाती तूफान मिचौंग, धारा 144 लागू

नई दिल्ली : दक्षिण भारत के कुछ राज्यों में ‘मिचौंग चक्रवात’ का खतरा मंडरा रहा है। मौसम विभाग ने चक्रवात मिचौंग के मद्देनजर तमिलनाडु और पुडुचेरी के कई स्थानों पर सोमवार को भारी बारिश और तूफान की चेतावनी जारी की है। आज ये तूफान तमिलनाडु के तट से टकरा सकता है। राज्य सरकारों ने अपने- अपने इलाकों में सभी सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए अपनी टीमों का अलर्ट कर दिया है।

पीएम मोदी ने जताया मदद का भरोसा : प्रधानमंत्री मोदी भी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं और लगातार राज्य सरकारों के संपर्क में है। जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी ने तमिलनाडु, पुडुचेरी, ओडिशा और आंध्र प्रदेश में बीजेपी कार्यकर्ताओं से राहत और बचाव प्रयासों में शामिल होने और स्थानीय प्रशासन की मदद करने की अपील की है। सरकार ने आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई. एस. जगन मोहन रेड्डी से बात की और उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया है।

भारतीय सेना की 12 मद्रास यूनिट ने चेन्नई के मुगलिवक्कम और मनापक्कम इलाकों से लोगों को बचाया है। यह लोग भारी बारिश के बाद हुए जलभराव के कारण फसं गए थे। ओडिशा में भारतीय मौसम विभाग ने चक्रवात तूफान के मद्देनजर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

चक्रवात मिचौंग पर ईस्ट कोस्ट रेलवे के सीपीआरओ अशोक कुमार मिश्रा का कहना है, “चक्रवात मिचौंग के कारण एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई गई थी। हर चीज पर बारीकी से नजर रखी जा रही है। गश्त भी की जा रही है और हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए गए हैं। अब इस चक्रवात के कारण 7 ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं।”

तमिलनाडु सरकार ने चेन्नई, तिरुवल्लूर, कांचीपुरम और चेंगलपट्टू में निजी कंपनियों और प्रतिष्ठानों से अनुरोध किया है कि वे भारी बारिश और इसके प्रभाव के कारण अपने कर्मचारियों को 5 दिसंबर (मंगलवार) को वर्क फ्रॉम होम ही दें।

चक्रवात की स्थिति को देखते हुए साउथ सेंट्रल रेलवे ने भी 144 ट्रेनें कैंसिल कर दी हैं। साथ ही स्कूलों और दफ्तरों को भी बंद कर दिया गया है। साथ ही, कुछ प्राइवेट ऑफिसों को वर्क फ्रॉम होम करने के लिए कहा गया है।
चेन्नई के ज्यादातर इलाकों में भारी बारिश के बाद जलभराव हो गया है, जिसके कारण जीवन अस्त-व्यस्त लग रहा है। हालांकि, प्रशासन की चेतावनी के बाद लोग अपने घरों में ही है।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *