प्रदेशबिहार-बंगाल एवं ओडिशा

‘द बर्निंग ट्रेन’ बनने से बची पुरी-जयनगर एक्सप्रेस, आग की लपटों के बीच से गुजरी

जमुई : शुक्रवार की सुबह 18419 अप पुरी-जयनगर एक्सप्रेस ट्रेन एक बड़े रेल हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बची। यह कहना गलत नहीं होगा कि ट्रेन में भीषण आग लग सकती थी। उठ रही आग की लपटों के बीच ट्रेन गुजर कर थोड़ी दूर किलोमीटर संख्या 351/11 और 351/31 के बीच जाकर सुरक्षित खड़ी हो गई। भीषण आग के बीच ट्रेन के गुजरने से आसपास गांव के ग्रामीण जो हादसा के प्रत्यक्षदर्शी थे, दांतो तले अपनी उंगली दबाते रह गए।

घटनास्थल के पास एक बंदर बुरी अवस्था में पाया गया। रेलकर्मी अनुमान के आधार से बता रहें है कि तार बंदर के संपर्क में आने से टूटा होगा। प्रत्यक्षदर्शियों ने ओवर हेड तार में आग की बड़ी लपटें उठती देख जोर-जोर की आवाज लगाई। ट्रेन की गति तेज थी। परिणाम स्वरूप ड्राइवर चाहकर भी ट्रेन को घटनास्थल से पूर्व रोक नहीं पाया। गाड़ी तार को और प्रभावित करते हुए खंभे को तोड़ते हुए आगे जाकर सुरक्षित खड़ी हो गई।

सावधानी के तौर पर ओवर हेड तार से बिजली कनेक्शन काट दिया गया है। इस कारण से अप ट्रेक में आवागमन सुबह 6:15 बजे से बंद है। घटना की जानकारी ट्रेन के ड्राइवर आर. बेसरा ने ऑन ड्यूटी स्टेशन मास्टर सिमुलतला महेश कुमार को दी।

घटना की जानकारी के बाद जसीडीह से पवार बैगन की टीम 7:31 बजे सिमुलतला पहुंच कर 7:40 बजे घटनास्थल के लिए रवाना हुई। समाचार संकलन तक पावर बैगन की टीम घटनास्थल पर पहुंच कर टूटे तार की मरम्मती में जुट गई। आवागमन प्रभावित होने से 13029 अप हावड़ा-मोकामा सिमुलतला स्टेशन में सुबह 7:31 बजे से खड़ी है। इसके पीछे 18622 अप हटिया-पटना पाटलीपुत्र एक्सप्रेस पूर्व के स्टेशन में खड़ी है।

Plz Download the App for Latest Updated News : NewsXpoz 

Posted & Updated by : Rajeev Sinha 

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *