देश-विदेश

धनुषकोडी से श्रीलंका को जोड़ने के लिए पुल बनाने की योजना

नई दिल्ली : पर्यटन, अध्यात्म और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार जल्द ही भारत और श्रीलंका के बीच एक नए पुल का निर्माण करने की योजना बना रही है। पुल भारत के धनुषकोडी को श्रीलंका के तलाईमन्नार से जोड़ेगा। हालांकि, अधिकारियों का कहना है कि सरकार फिलहाल समुद्र पर 23 किलोमीटर लंबे पुल के निर्माण की व्यवहारिकता के लिए अध्ययन करेगी। बता दें, यह वही जगह है जिसे हिंदु मान्यताओं के अनुसार रामसेतु कहा जाता है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जुलाई 2022 में श्रीलंकाई राष्ट्रपति रनिल विक्रमसिंघे की दिल्ली यात्रा के दौरान भारत और श्रीलंका त्रिंकोमाली और कोलंबो के बंदरगाहों तक भूमि पहुंच के विकास की व्यवहारिकता की जांच के लिए सहमत हुए थे। इसके बाद विदेश मंत्रालय ने अन्य मंत्रालयों और विभागों से इस विषय पर चर्चा की। इस दौरान विदेश मंत्रालय ने सबसे पहले पुल की व्यवहारिकता के अध्ययन के बारे में रिपोर्ट तैयार करने की बात कही थी।

रिपोर्टों की मानें तो परियोजना को पूरा करने के लिए अधिक धनराशि की आवश्यकता होगी। हालांकि, यह पुल द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूत करने के लिए वरदान साबित हो सकती है। परियोजना की शुरुआत से पहले सरकार को तकनीक, आर्थिक और पर्यावरण सहित अन्य पहलुओं पर जांच करनी होगी कि आखिर यह परियोजना असल में लागू हो सकती है या नहीं। बता दें, दिसंबर 2015 में केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने विक्रमसिंघे के साथ सड़क और रेल पुल बनाने की योजना पर बातचीत की थी।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *