देश-विदेश

नीदरलैंड के पीएम बन सकते है गीर्ट विल्डर्स

नई दिल्ली : नीदरलैंड्स के धुर-दक्षिणपंथी नेता गीर्ट वाइल्डर्स आम चुनावों में बड़ी जीत हासिल कर सकते हैं. समाचार एजेंसी रॉयटर्स कि रिपोर्ट के मुताबिक एग्जिट पोल ने सभी पूर्वानुमानों को खारिज करते हुए वाइल्डर्स की फ्रीडम पार्टी (पीवीवी) की 150 में से 35 सीटें जीतने का अनुमान लगाया है.

वाइल्डर्स दूसरे नंबर पर रहे, पूर्व ईयू कमिश्नर फ्रैंस टिमरमंस के लेबर/ग्रीन लेफ्ट गठबंधन से 10 सीटें आगे है. यह अंतर उम्मीद से कहीं अधिक है और परिणाम बदलने के लिए काफी लग रहा है. नीदरलैंड में एग्ज़िट पोल आम तौर पर विश्वसनीय होते हैं, जिनमें लगभग दो सीटों की गलती का अंतर होता है.

वाइल्डर्स यूरोपियन यूनियन (EU) और नीदरलैंड्स में प्रवासियों के आने के विरोधी रहे हैं. एक विक्ट्री स्पीच में, वाइल्डर्स ने ‘शरण और इमिग्रेशन की सुनामी’ को समाप्त करने की कसम खाई.’

https://x.com/geertwilderspvv/status/1578993995744960513?s=20

‘इस्लाम विरोधी भड़काऊ विचारों के लिए मिली धमकियां’ : रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक इस्लाम पर वाइल्डर्स के भड़काऊ विचारों के कारण उन्हें जान से मारने की धमकियां मिलीं और वह वर्षों से भारी पुलिस सुरक्षा में रह रहे हैं. उन्होंने पैगंबर मोहम्मद, इस्लाम और कुरान को लेकर विवादास्पद बयान दिए हैं. वह नीदरलैंड में मस्जिदों और मुस्लिमों की पवित्र पुस्तक पर प्रतिबंध लगाना चाहते हैं.

उनकी इस्लाम विरोधी टिप्पणियों के कारण पाकिस्तान, इंडोनेशिया और मिस्र सहित बड़ी मुस्लिम आबादी वाले देशों में कभी-कभी हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए। पाकिस्तान में एक धार्मिक नेता ने उनके खिलाफ फतवा भी जारी कर दिया. वाइल्डर्स यूरोपीय यूनियन के भी बड़े विरोधी हैं. उन्होंने नीदरलैंड की सीमाओं को नियंत्रित करने, यूनियन को दिए जाने वाले भुगतान को काफी कम करने की बात कही है. वह यूरोपीय यूनियन में किसी भी नए मेंबर की एंट्री के भी खिलाफ हैं.

दो दलों के साथ मिलकर सरकार बनाने करेंगे कोशिश : एग्जिट पोल से पता चला कि निवर्तमान प्रधान मंत्री मार्क रुटे की पार्टी, रूढ़िवादी वीवीडी 24 सीटों पर तीसरे स्थान पर थी. उम्मीद है कि वाइल्डर्स वीवीडी और अपस्टार्ट पार्टी ‘न्यू सोशल कॉन्ट्रैक्ट’ के साथ एक दक्षिणपंथी सरकार बनाने की कोशिश करेंगे, जिनके पास मिलकर 79 सीटों वाला बहुमत होगा. हालांकि गठबंधन के लिए समझौता आसान नहीं होगा क्योंकि दोनों पार्टियों ने कहा है कि उन्हें वाइल्डर्स के साथ काम करने पर गंभीर संदेह है, विशेष तौर पर उनके मुखर इस्लाम विरोधी रुख को लेकर.

नुपुर शर्मा का समर्थन : बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नुपुर शर्मा द्वारा एक टीवी डिबेट में पैगंबर मोहम्मद पर की गई विवादास्पद टिप्पणी के बाद उठे विवाद के बीच वाइल्डर्स ने शर्मा का समर्थन किया था.

वाइल्डर्स ने 9 अक्टूबर, 2022 को किए एक ट्वीट में कहा था, ‘नूपुर शर्मा एक ऐसी हीरो हैं जिन्होंने सच के अलावा कुछ नहीं बोला। पूरी दुनिया को उन पर गर्व होना चाहिए. वह नोबेल पुरस्कार की हकदार हैं. और भारत एक हिंदू राष्ट्र है, भारत सरकार इस्लामी नफरत और हिंसा के खिलाफ हिंदुओं की दृढ़ता से रक्षा करने के लिए बाध्य है.’

Plz Download the App for Latest Updated News : NewsXpoz 

Posted & Updated by : Rajeev Sinha 

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *