प्रदेशबिहार-बंगाल एवं ओडिशाराजनीति

‘पहली बार किसी सीएम की गिरफ्तारी हुई, लोकतंत्र में काला अध्याय जुड़ा’-हेमंत 

रांची-NewsXpoz : झारखंड की चंपई सोरेन सरकार को आज विधानसभा में बहुमत साबित करना है। बहुमत परीक्षण के लिए झारखंड विधानसभा का दो दिन का विशेष सत्र बुलाया गया है, जिसकी राज्यपाल के अभिभाषण से शुरुआत हुई। सत्ताधारी गठबंधन के विधायक रविवार शाम हैदराबाद से रांची लौट चुके हैं।

हेमंत सोरेन ने विधानसभा को किया संबोधित : पूर्व सीएम हेमंत सोरेन ने विधानसभा में संबोधन दिया। अपने संबोधन में हेमंत सोरेन ने कहा कि ’31 जनवरी की काली रात रही। देश के लोकतंत्र में यह काली रात जुड़ी। देश में पहली बार किसी मुख्यमंत्री की गिरफ्तारी हुई। इस गिरफ्तारी में राजभवन भी शामिल रहा। जिस तरीके से यह घटना घटित हुई है। मैं बहुत आश्चर्यचकित हूं।’

हेमंत सोरेन ने कहा, ‘मुझे कोई गम नहीं कि मुझे आज ED ने पकड़ा है। झारखंड मुक्ति मोर्चा का उदय झारखंड के मान, सम्मान, स्वाभिमान को बचाने के लिए हुआ है और जो भी बुरी नजर डालेगा उसे हम मुंह तोड़ जवाब देंगे। मैं आंसू नहीं बहाऊंगा, आंसू वक्त के लिए रखूंगा, आप लोगों के लिए आंसू का कोई मोल नहीं।’

हेमंत सोरेन ने ईडी-सीबीआई-आईटी को लेकर साधा निशाना : पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने विधानसभा को संबोधित करते हुए कहा, ‘यह झारखंड है, यह देश का एक ऐसा राज्य है जहां हर कोने में आदिवासी-दलित वर्गों से अनगिनत सिपाहियों ने अपनी कुर्बानी दी है। ED-CBI-IT जो देश की विशेष और काफी संवेदनशील व्यवस्थाएं कही जाती हैं… जहां करोड़ों रुपए डकार कर इनके सहयोगी विदेश में जा बैठे हैं, उनका एक बाल बांका करने की इनके पास औकात नहीं है। इनके पास औकात है तो देश के आदिवासी दलित-पिछड़ों और बेगुनाहों पर अत्याचार करना… अगर है हिम्मत तो सदन में कागज पटक कर दिखाए कि यह साढ़े 8 एकड़ की ज़मीन हेमंत सोरेन के नाम पर है, अगर हुआ तो मैं उस दिन राजनीति से अपना इस्तीफा दे दूंगा।’

‘हेमंत सरकार पार्ट-2 हैं हम’ : सीएम चंपई सोरेन ने कहा ‘मैं गर्व से कहता हूं कि मैं हेमंत सोरेन का ही पार्ट-2 हूं।’

झारखंड विधानसभा में अभी ऐसा है गणित : झारखंड विधानसभा में कुल 81 सदस्य हैं। इनमें से एक सीट फिलहाल खाली है। एक विधायक बीमार होने की वजह से फ्लोर टेस्ट में शामिल नहीं हुए हैं। विधानसभा में 79 विधायक हैं, जिसके बाद बहुमत का आंकड़ा 40 हो गया है। पार्टी के अनुसार सीटों की बात करें तो झामुमो के 29, कांग्रेस के 17, राजद के एक, सीपीआई (एमएल) के एक समेत सत्ताधारी गठबंधन में कुल 48 विधायक हैं। वहीं भाजपा के 26, आजसू के 3, एनसीपी (एपी) एक और दो निर्दलीय विधायक हैं। ऐसे में विपक्ष का आंकड़ा कुल 32 है।

सीएम बोले- सरकार को अस्थिर करने के प्रयास हुए : राज्यपाल का अभिभाषण समाप्त हो गया है। राज्यपाल के अभिभाषण के बाद फिलहाल सीएम चंपई सोरेन संबोधित कर रहे हैं। अपने संबोधन में चंपई सोरेन ने कहा कि सरकार को अस्थिर करने की कोशिश की गई। सीएम ने कहा हेमंत है तो हिम्मत है। सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए सीएम ने कहा कि कोरोना काल में राज्य के मजदूरों को हवाई जहाज से लाया गया।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *