देश-विदेशराजनीति

बांग्लादेश : संसद की सीटों के लिए मतदान शुरू, विपक्षी दल ने किया है बहिष्कार

नई दिल्ली/ढाका-NewsXpoz : भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश में आम चुनाव के लिए आज मतदान शुरू हुआ। बांग्लादेश संसद की 300 सीटों के लिए मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ। नतीजे आठ जनवरी को आने की उम्मीद है। संभावित हिंसा की आशंका को देखते हुए बड़ी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। साथ ही सुरक्षा एजेंसियों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

मुख्य विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) और उसके सहयोगियों ने चुनाव बहिष्कार का फैसला किया है। बीएनपी की नेता और पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया भ्रष्टाचार के मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद घर में नजरबंद हैं। बांग्लादेश में विपक्ष के बहिष्कार के बीच मतदान शुरू हुआ। कड़ी सुरक्षा के बीच वोटिंग हो रही है। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने ढाका में अपना वोट डाला।

बांग्लादेश की बीएनपी के 48 घंटे की आम हड़ताल के आह्वान पर एक स्थानीय निवासी का कहना है, ‘हमारे देश में चुनाव आयोग से 46 पंजीकृत दल हैं। बीएनपी सिर्फ एक पार्टी है। केवल एक पार्टी हमारे देश की राजनीतिक व्यवस्था को परिभाषित नहीं कर सकती है। मैं वोट डालने के लिए जाऊंगा क्योंकि मैं अपना प्रतिनिधि चुनना चाहता हूं।’

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, वोटिंग से पहले शनिवार शाम को बांग्लादेश चुनाव आयोग का चुनाव एप्लिकेशन ‘स्मार्ट इलेक्शन मैनेजमेंट बीडी’ क्रैश हो गया। एप काम करना बंद कर दिया है। चुनाव आयोग ने मतदाताओं के लिए मतदान केंद्रों सहित चुनाव संबंधी विवरण ढूंढने के लिए एप लॉन्च किया था। आयोग का कहना है कि यह अस्थाई समस्या है। जल्द ही इसे ठीक कर लिया जाएगा। आयोग के मुताबिक, क्षमता से अधिक यूजर्स के एप आने से यह समस्या हुई।

विपक्ष का दावा है कि प्रधानमंत्री शेख हसीना के नेतृत्व वाली मौजूदा सरकार के रहते हुए देश में निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकता है। बीएनपी ने चुनाव से पहले 48 घंटे की राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है जो सोमवार सुबह छह बजे समाप्त होगी। बीएनपी के प्रवक्ता रूहुल कबीर रिजवी ने कहा कि हड़ताल का उद्देश्य शेख हसीना की सरकार का इस्तीफा, अंतरिम सरकार की स्थापना और राजनीति बंदियों की रिहाई की मांगों को लेकर दबाव बनाना है।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *