प्रदेशयूपी एवं उत्तराखंड

बाराबंकी : माफिया मुख्तार को जेल में दिया जा रहा जहर, कोर्ट में लगाई अर्जी

नई दिल्ली : बाराबंकी के एमपी-एमएलए कोर्ट में आज गैंगस्टर मुख्तार अंसारी की फर्जी एंबुलेंस मामले में पेशी हुई. पेशी के दौरान मुख्तार अंसारी ने कोर्ट में एक प्रार्थना पत्र दिय है. इस एप्लिकेशन में अंसारी ने आरोप लगाया है कि उसे जेल में धीमा जहर दिया जा रहा है. अंसारी का आरोप है कि इससे उसकी तबियत पर काफी गहरा असर पड़ रहा है. अंसारी ने कोर्ट से ये गुहार लगाई है कि उसका इलाज करवाने के लिए एक मेडिकल टीम का गठन किया जाए.

एमपी-एमएलए कोर्ट में गैंगस्टर मुख्तार अंसारी के वकील ने एक एप्लिकेशन दी है. इस एप्लिकेशन में मुख्तार अंसारी की तरफ से लिखा गया कि 19 मार्च की रात उसे खाने में जहरीला पदार्थ दिया गया. जिसकी वजह से उसकी तबियत खराब हो गई. उसके बाद से उसे बहुत ज्यादा घबराहट हो रही है. जबकि इससे पहले उसका स्वास्थ्य पूरी तरह से ठीक था. इस एप्लिकेशन में डाक्टरों की टीम बनाकर सही से इलाज करवाने की गुजारिश की गई है. अंसारी का आरोप है कि 40 दिन पहले भी उसे इसी तरह खाने में जहरीला प्रदार्थ मिलाकर दिया गया था.

दरअसल गुरुवार को हुई पेशी के दौरान बांदा जेल से मुख्तार अंसारी वर्चुअल पेशी में हाजिर हुआ था. उसकी जगह जेल के डिप्टी जेलर महेंद्र सिंह हाजिर हुए थे. पेशी के दौरान उन्होंने इस बात की पुष्टि की कि मुख्तार अंसारी बीमार है, जिसकी वजह से वह सुनवाई में पेश होने में असमर्थ है. फिलहाल कोर्ट ने 29 मार्च की तारीख दी है. वहीं पेशी के दौरान वकील के माध्यम से अंसारी ने कहा कि एक मेडिकल बोर्ड बनाकर उसकी जांच करवाई जाए. उसका आरोप है कि उसे खाने में धीमा जहर दिया जा रहा है.

बता दें कि फर्जी एंबुलेंस मामले में 24 मार्च 2022 को तत्कालीन डीएम ने मुख्तार अंसारी के खिलाफ गैंगस्टर केस को मंजूरी दी थी. इसके बाद 25 मार्च 2022 को तत्कालीन शहर कोतवाल ने मुख्तार अंसारी और उसके 12 अन्य सहयोगियों के खिलाफ गैंगस्टर का मुकदमा दर्ज कराया था.

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *