बिहार-बंगाल एवं ओडिशा

बिहार : नीतीश कुमार ने राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा

पटना : कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न दिए जाने के बाद सीएम के मुंह से पीएम की प्रशंसा और रोहिणी आचार्या के संदेश के साथ जिस ‘खेला’ ने रंग दिखाया, आज उसका रिजल्ट आ सकता है। सूत्रों के अनुसार सीएम नीतीश ने गवर्नर से मिलने का समय मांगा है।

बिहार के राजनीतिक घटनाक्रम के ताजा अपडेट के मुताबिक, आखिकार तमाम अटकलों के बाद नीतीश कुमार ने राजभवन पहुंचकर इस्तीफा दिया। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार को समाप्त करने का प्रस्ताव दिया गया है। मैं इस्तीफा सौंप दिया है। हमने पार्टी के लोगों की ही बात मानी है। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि मौजूदा गठबंधन से हम अलग हो गए हैं। इस गठबंधन के साथ काम करने में दिक्कत हो रही थी, जिससे मुझे तकलीफ हो रही ती। पार्टी के सदस्यों से मैंने यह समस्या साझा की, तो उन्होंने कहा कि आप इस्तीफा दे दीजिए और मैं उनकी बात को मान लिया है। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि अब हम नए गठबंधन के साथ सरकार बनाएंगे।

नीतीश कुमार ने बिहार के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने राजभवन पहुंचकर राज्यपाल को इस्तीफा सौंपा है। नीतीश कुमार राज्यपाल को इस्तीफा देने के बाद राजभवन से बाहर निकल गए हैं। पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि मैंने इस्तीफा दे दिया है।

सीएम नीतीश कुमार पहुंचे राजभवन : सीएम नीतीश कुमार राजभवन पहुंच गए। वह सीएम हाउस से निकलकर सीधे राजभवन पहुंचे। उनके साथ बिहार सरकार के मंत्री और जदयू के वरीय नेता विजेंद्र यादव भी मौजदू हैं।

कांग्रेस सांसद बोले- इंडिया गठबंधन की बैठकों में नीतीश कुमार का योगदान रहा : बिहार के सियासी हालात के बारे में पश्चिम बंगाल के बागडोगरा एयरपोर्ट पर कांग्रेस के वरीय नेता और सांसद जयराम रमेश ने कहा कि मुझे कुछ पता नहीं। बिहार की राजनीति पर टिप्पणी नहीं करुंगा। क्या होगा पता नहीं। लेकिन, इतना जरूर कहना चाहता हूं कि नीतीश कुमार ने इंडिया गठबंधन की बैठक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने 18 जून 2023 को पटना में विपक्षी दलों की पहली बैठक बुलाई। दूसरी बैठक 17-18 जुलाई को बेंगलुरु में हुई फिर 31 अगस्त-1 सितंबर को मुंबई में बैठक हुई। इस तीनों बैठकों में नीतीश कुमार ने अहम योगदान दिया। हमलोग मान कर चल रहे थे कि वह भाजपा के खिलाफ लड़ेंगे। भाजपा के विचारधारा से लड़ रहे थे। अब आगे दो-तीन दिन क्या होगा पता नहीं।

चुप्पी साध गए बिहार प्रभारी विनोद तावड़े : बिहार प्रभारी विनोद तावड़े प्रभारी भाजपा के प्रदेश कार्यालय पहुंचे। मीडिया ने उनके सीएम नीतीश कुमार से साथ मिलकर सरकार बनाने से लेकर कई सवाल किए लेकिन उन्होंने केवल नमस्कार किया और धन्यवाद दिया। यह कहते हुए वह कार्यालय चले गए। इसके अलावा उन्होंने कुछ भी नहीं कहा।

सियासी हलचल के बीच भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा दोपहर तीन बजे पटना आ रहे हैं। वह विशेष विमान से दिल्ली से पटना आ रहे हैं। इधर, भाजपा प्रदेश कार्यालय में बैठकों का दौर शुरू हो चुका है। भाजपा विधायकों ने आज भी सियासी हालात पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। कहा कि लोकसभा चुनाव को लेकर बैठक की जा रही है।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *