देश-विदेशराजनीति

दावोस : भारत डिजिटल तरीके से लोगों तक पहुंचा रहा सुविधाओं का लाभ- स्मृति ईरानी

नई दिल्ली : दावोस में विश्व आर्थिक मंच की वार्षिक बैठक के दौरान भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) ने बुधवार को “डिजिटल सार्वजनिक अवसंरचना और वैश्विक प्रौद्योगिकी मूल्य शृंखलाओं पर भारत के प्रभाव” विषय पर CII-डेलॉइट ब्रेकफास्ट सत्र की मेजबानी की। CII द्वारा आयोजित सत्र में डिजिटल भारत के कौशल को प्रदर्शित किया गया। सत्र के दौरान, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने एक अरब से अधिक की विशाल आबादी को प्रौद्योगिकी-संचालित समाधान देने में भारत की सफलता के बारे में बताया।

केंद्रीय मंत्री ने भारत की डिजिटल क्षमताओं और देश में डेटा विज्ञान पेशेवरों की महत्वपूर्ण मांग की भी चर्चा की। सत्र को संबोधित करते हुए केंद्रीय महिला व बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा, “भारत एक जीवंत लोकतंत्र है जो डिजिटल रूप से काम कर सकता है। इसने प्रौद्योगिकी के माध्यम से एक अरब से ज्यादा आबादी तक लाभ पहुंचाया है। वे सभी जो भारत में निवेश करने के इच्छुक हैं उन्हें जान लेना चाहिए कि अकेले 2024 में भारत में 10 लाख डेटा विज्ञान पेशेवरों की मांग है।

स्मृति ने कहा, ”महामारी से आने वाली चुनौतियों के बावजूद भारत ने काफी नीतिगत सुधार किए और अपनी आबादी को बचाने के लिए डिजिटल रूप से प्रदर्शन किया। भारत ने वैश्विक स्तर पर जुड़ने के अवसरों को नहीं खोया और महामारी के दौरान भी व्यापार के लिए कभी बंद नहीं हुआ।” सीआईआई के महानिदेशक चंद्रजीत बनर्जी ने सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि डिजिटल बुनियादी ढांचा भारत नवाचार की ओर अग्रसर है।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *