कर्नाटक-केरल एवं अन्यप्रदेश

मणिपुर : भीड़ ने मणिपुर राइफल्स के कैंप पर किया हमला, हथियार लूटने की कोशिश

इंफाल-NewsXpoz : मणिपुर में हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है. बीती रात, सीएम हाउस के पास भीड़ ने मणिपुर राइफल्स के कैंप पर हमला कर दिया. भीड़ ने कैंप से हथियार लूटने की कोशिश की. हालांकि, सुरक्षाबलों ने बहादुरी से इस नापाक कोशिश को नाकाम कर दिया. भीड़ को रोकने के लिए जवानों को कई राउंड हवाई फायरिंग करनी पड़ी. इस घटना के बाद इंफाल में जारी कर्फ्यू में ढील को रद्द कर दिया गया है. पुलिस ने बताया कि सैकड़ों की तादाद में लोग आए और कैंप का निशाना बनाया. हमले को नाकाम कर दिया गया है.

सुरक्षाबलों ने कैसे भीड़ को खदेड़ा? : पुलिस ने बताया कि भीड़ ने राजभवन और सीएम हाउस के पास इंफाल वेस्ट में कैंप पर हमला किया था. भीड़ ने हमला करके पहले कुछ हथियार लूट लिए. हालांकि, फिर सीआरपीएफ और आर्मी यूनिट मौके पर पहुंचीं और भीड़ को खदेड़ दिया. इसकी वजह से भीड़ का हथियार लूटने का मंसूबा नाकाम हो गया.

भीड़ ने उठाया इस बात का फायदा : पुलिस अधिकारी ने कहा कि बीते मंगलवार को मोरेह में संदिग्ध उग्रवादियों ने एसडीपीओ चिंगथम आनंद कुमार की गोली मारकर हत्या कर दी थी. जिसके बाद से इंफाल समेत अन्य जगहों पर बड़ी संख्या में लोग आंदोलन कर रहे हैं. इसी का फायदा उठाते हुए भीड़ बीती सुरक्षाबलों से भिड़ गई और हथियार लूटने की कोशिश की.

पहले लाठीचार्ज और फिर हवाई फायरिंग : उन्होंने आगे कहा कि भीड़ को काबू करने के लिए सुरक्षाबलों ने पहले लाठीचार्ज किया. लेकिन जब बात नहीं बनी तो हवा में गोलियां चलाईं. इस झड़प में कुछ नागरिकों को मामूली चोटें आई हैं. इसके चलते कर्फ्यू में ढील रद्द कर दी गई है. इससे पहले जिला प्रशासन सुबह 5 बजे से रात 10 बजे तक कर्फ्यू में ढील दे रहा था.

गौरतलब है कि कुकी स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन (KSO) तेंगनौपाल जिले के मोरे में एडिशनल पुलिस कमांडो की तैनाती का विरोध कर रहा है. केएसओ 1 नवंबर की आधी रात से मणिपुर में 48 घंटे के बंद का आह्वान किया था. इसी बीच, इंफाल में सीएम हाउस के पास मणिपुर राइफल्स के कैंप पर हमला हो गया.

Plz Download the App for Latest Updated News : NewsXpoz 

Posted & Updated by : Rajeev Sinha 

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *