कारोबारदेश-विदेश

मालदीव के खिलाफ भारत के टूर ऑपरेटर्स, फ्लाइट्स की बुकिंग रोकी

नई दिल्ली-NewsXpoz : मालदीव से भारत के खिलाफ आपत्तिजनक बयान आने के बाद, आइलैंड नेशन के बायकॉट का कैंपेन और तेज हो गया है. अब इसमें इंडिया के नामी टूर ऑपरेटर्स भी शामिल हो गए है. ‘जमाईट्रिप’ ने मालदीव जाने वाली सभी फ्लाइट्स की बुकिंग रोक दी. ईजमाईट्रिप के को-फाउंडर और सीईओ निशांत पिट्टी ने मालदीव के मंत्रियों द्वारा भारत और पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी के बाद सभी मालदीव उड़ान बुकिंग को सस्पेंड करने का ऐलान किया है.

लक्षद्वीप को लेकर कैंपेन शुरू : भारत के समर्थन में खड़े होकर, निशांत पिट्टी ने सोशल मीडिया ‘एक्स’ (पूर्व में ट्विटर) पर कहा, ‘हमारे देश के साथ एकजुटता में, @EaseMyTrip ने सभी मालदीव उड़ान बुकिंग को निलंबित कर दिया है. ऑनलाइन ट्रैवल सॉल्यूशन प्रोवाइडर ‘ईजमाईट्रिप’ ने #ChaloLakshadweep के साथ लक्षद्वीप कैंपेन शुरू किया. उन्होंने अपने पोस्ट में कहा, ‘लक्षद्वीप का पानी और समुद्र तट मालदीव/सेशेल्स जितना ही अच्छा है. हम @EaseMyTrip इस प्रिस्टीन डेस्टिनेशन को प्रमोट करने के लिए खास ऑफर लेकर आएंगे, जहां पर हमारे पीएम नरेंद्र मोदी ने हाल ही में दौरा किया है.’

 #BoycottMaldives का दिखा असर : भारत और मालदीव के बीच बढ़ते तनाव के बीच, सोशल मीडिया पर #BoycottMaldives का हैशटैग ट्रेंड करने लगा, क्योंकि भारतीय टूरिस्ट्स ने इस आइलैंड नेशन जाने के प्लांड वैकेशन को कैंसिल कर दिया है. मालदीव के राजनेताओं ने भारत और पीए नरेंद्र मोदी के बारे में अपमानजनक टिप्पणी करके और लक्षद्वीप की उनकी यात्रा का मजाक उड़ाकर एक विवाद खड़ा कर दिया, इसे भारतीयों के लिए एक परफेक्ट टूरिस्ट डेस्टिनेशन के रूप में पेश किया.  एक दिन पहले दिन, ‘इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स’ ने भविष्यवाणी की थी कि बॉयकॉट का असर अगले 20 से 25 दिन में नजर आने लगेगा.

‘इंडियन एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स’ के अध्यक्ष राजीव मेहरा ने कहा, ‘अचानक, मालदीव पर कोई इंक्वायरी नहीं हुई है, अचानक गिरावट आई है. जिन लोगों ने पेमेंट किया है, वो उनके टूर को कैंसिल नहीं करेंगे. हम उम्मीद कर रहे हैं कि लोग मालदीव की ट्रिप बुक नहीं करेंगे. एक और टूर ऑपरेटर ने ऐसा ही बयान दिया है, उन्होंने बताया कि मालदीव के राजनेताओं द्वारा ऐसे बयान आने पर भारतीय टूरिस्ट्स खुद को इस आइलैंड पर जाने से रोक रहे हैं.

मालदीव में इंडियन टूरिस्ट्स सबसे ज्यादा : मालदीव भारतीयों के बीच एक पॉपुलर टूरिस्ट डेस्टिनेशन है, वहां देश के पर्यटन मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, दिसंबर 2023 तक मालदीव आने वाले पर्यटकों में भारतीय सबसे अधिक थे. मालदीव में आने वाले टूरिस्ट्स में सबसे ज्यादा तादाद भारत (2,09,198) से थी, उसके बाद रूस (2,09,146) और चीन (1,87,118) का स्थान था. दिल्ली के एक टूर ऑपरेटर ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, ‘मालदीव भारतीयों के बीच काफी पॉपुलर है. लेकिन इस घटना काअसर पड़ेगा. हम अभी भी डाउनफॉल देख रहे हैं. हम उम्मीद कर रहे हैं कि मालदीव को टूरिस्ट डेस्टिनेशन के तौर पर चुनने वाले लोगों में गिरावट आएगी.’

मालदीव के 3 मंत्री सस्पेंड : प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ उनकी टिप्पणी के लिए मरियम शियुना, मालशा शरीफ और महजूम माजिद को मालदीव की सरकार ने निलंबित कर दिया गया, जिनकी वजह से बड़े  पैमाने पर भारतीयों में नाराजगी फैल गई थी.  शियुना ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर प्रधानमंत्री मोदी के बारे में अपमानजनक टिप्पणी की। शियुना के पोस्ट में, जिसे अब हटा दिया गया है, पीएम मोदी को फीचर किया था.

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *