प्रदेशयूपी एवं उत्तराखंड

रामलला के अभिषेक के लिए बाबर के देश से भी आया जल

नई दिल्ली : अयोध्या मंदिर के लिए रामलला की मूर्ति तो फाइनल हो गई लेकिन 17 तारीख को इसे सार्वजनिक किया जाएगा. इसी दिन नगर भ्रमण का भी कार्यक्रम है. इस समय पूरे देश में 22 जनवरी 2024 को प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम की चर्चा है. ऐसे में यह जानना बेहद दिलचस्प है कि अयोध्या में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा के लिए मुगल शासक बाबर की जन्मभूमि उज्बेकिस्तान से भी जल लाया है. जी हां, पाकिस्तान, चीन, दुबई समेत अंटार्कटिका के जल से भी श्रीराम का अभिषेक किया जाएगा.

इसी साल अप्रैल में दिल्ली के पूर्व भाजपा विधायक विजय जौली 155 देशों से लाए गए पवित्र जल को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मिले थे. तब तस्वीरें भी सामने आई थीं. गडकरी ने कहा था कि यह ऐतिहासिक है. कलश को करीब से देखिए तो इसमें चीन, लाओस, लातविया, म्यांमार, मंगोलिया, साइबेरिया, दक्षिण कोरिया जैसे कई देशों के नाम के स्टिकर दिखाई देते हैं.

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *