यूपी एवं उत्तराखंड

राम मंदिर : तीन लाख भक्तों ने किए दर्शन, अयोध्या आने वाली बसें रोकी गईं

अयोध्या धाम : प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद पहली सुबह अयोध्या के राम मंदिर में रामलला भक्तों को दर्शन दे रहे हैं। मंगलवार की सुबह दर्शन के लिए भक्तों की भारी भीड़ उमड़ रही है।

प्राण प्रतिष्ठा से पहले ही भक्तों ने अयोध्या में डाल लिया था डेरा : नव्य मंदिर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से रामलला के नवीन विग्रह की प्राण प्रतिष्ठा के पहले से ही देशभर से दर्शन के लिए राम भक्त अयोध्या पहुंचने लगे थे। इनमें से बड़ी संख्या में लोगों ने यहीं पर अपने गुरु आश्रमों, मंदिर, होटल, धर्मशाला, रामकथा पार्क, सरयू घाट और अन्य स्थानों पर डेरा डाल रखा था। इनमें वो श्रद्धालु भी शामिल रहे जिन्हें 20 से 22 जनवरी तक तीन दिन अस्थाई मंदिर में रोक के चलते रामलला के दर्शन नहीं मिल सके थे। इसके अलावा तमाम भक्त पड़ोसी जिलों में अपना आश्रय बनाए थे।

मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास की अपील- धैर्य बनाए रखें : अयोध्या में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने पर श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास बोले, मैं सभी भक्तों को आश्वस्त करता हूं कि वे रामलला के दर्शन कर सकेंगे, दर्शन लगातार जारी है। मैं श्रद्धालुओं से धैर्य बनाए रखने की अपील करता हूं।

दर्शन व्यवस्था को संभाल रहे यूपी शासन के आला अफसर : अयोध्या राम मंदिर में बड़ी संख्या में भक्त दर्शन के लिए पहुंचे हैं। यूपी के प्रमुख सचिव, गृह, संजय प्रसाद और विशेष डीजी कानून और व्यवस्था, प्रशांत कुमार भक्तों की व्यवस्थित आवाजाही की निगरानी के लिए मंदिर के गर्भगृह में पहुंचे।

अयोध्या पहुंचे मुख्यमंत्री योगी, व्यवस्थाओं का लेंगे जायजा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या पहुंच गए हैं। सीएम योगी यहां व्यवस्थाओं का जायजा लेंगे। उनका हेलीकॉप्टर रामकथा हेलीपैड पर उतरा। इस समय शासन के उच्चाधिकारी भी अयोध्या में मौजूद हैं। अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा के बाद पहले दिन श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी है। इससे उन्हें नियंत्रित करने के लिए प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

ढाई से तीन लाख श्रद्धालुओं ने रामलला के किए दर्शन : समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अगले दिन यानी मंगलवार को करीब 2.5 लाख से 3 लाख श्रद्धालुओं ने अयोध्या में रामलला के दर्शन किए हैं और इतनी ही संख्या में भक्त दर्शन करने के लिए इंतजार कर रहे हैं। स्थानीय प्रशासन भक्तों को निरंतर दर्शन कराने के लिए सभी व्यवस्थाएं कर रहे हैं। स्थिति नियंत्रण में है।

एडीजी जोन लखनऊ ने की भक्तों से अपील : अयोध्या में रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद श्री राम जन्मभूमि मंदिर में भक्तों की भारी भीड़ पर लखनऊ जोन एडीजी पीयूष मोर्डिया ने कहा कि बड़ी संख्या में भक्त यहां एकत्र हुए हैं। आगे कहा कि यह सुनिश्चित करना हमारा प्राथमिक कर्तव्य है कि किसी भी भक्त को असुविधा न हो। मैं भक्तों से अपील करता हूं कि वे मंदिर परिसर के अंदर मोबाइल फोन का उपयोग न करें। भक्तों से धैर्य रखने की अपील है।

प्रमुख सचिव-गृह और स्पेशल डीजी-लॉ एंड ऑर्डर गर्भगृह में मौजूद : प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद बड़ी संख्या में भगवान राम भक्त यूपी के अयोध्या स्थित राम जन्मभूमि पहुंच रहे हैं। श्रद्धालुओं को लगातार दर्शन सुनिश्चित कराने के लिए पुलिस और प्रशासन अलर्ट पर है। प्रमुख सचिव-गृह संजय प्रसाद और स्पेशल डीजी-लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार राम मंदिर के गर्भगृह में मौजूद हैं।

स्वामी गोविंद देव गिरि महाराज ने तुड़वाया था पीएम का उपवास : स्वामी गोविंद देव गिरि महाराज ने कहा हमें उन्हें पानी में नींबू के रस की कुछ बूंदों के साथ शहद चढ़ाना था। लेकिन उन्होंने मुझे अलग से भगवान श्री राम का ‘चरणामृत’ चढ़ाने के लिए कहा। इसलिए, हमने बनाया बदलाव। मुझे उस वक्त मां जैसा प्यार महसूस हुआ और मुझे ऐसा लगा जैसे मैं इसे अपने बेटे को अर्पित कर रही हूं और उसका व्रत तोड़ रही हूं। उन्होंने कल श्री राम जन्मभूमि मंदिर में ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह के बाद पीएम नरेंद्र मोदी का उपवास तुड़वाया।

अयोध्या आने वाले सभी रास्ते बंद, पैदल आ रहे लोग : अयोध्या मंदिर की ओर आने वाले सभी रास्तों को बंद कर दिया गया है। वहीं दूसरी तरफ खबर है कि अयोध्या आने वाली सभी बसों को रोक दिया गया है। मंदिर की ओर आने वाले रास्तों को चार से पांच किमी पहले बंद किया गया है। पैदल ही आने दिया जा रहा है।

भीड़ को देखते हुए लखनऊ और बाराबंकी के डीएम ने लिया फैसला : अयोध्या में मंगलवार को रामलला के दर्शन के लिए श्रद्घालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी। हाल ये हो गया कि वहां मौजूद प्रशासन को लोगों को नियंत्रित करने में कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। इस दौरान धक्कामुक्की में कई लोगों को चोट भी लग गई। लखनऊ जिलाधिकारी ने निर्देशित किया है कि अभी कोई भी यात्री अयोध्या न भेजे जाएं। बढ़ती हुई भीड़ को नियंत्रण करने में समस्या हो रही है। इसके बजाय यहां से लोगों को अन्यत्र भेजने की व्यवस्था की जाएं। कृपया दो घंटे के लिए अयोध्या की सेवाएं स्थगित रखें। अयोध्या से आगे के यात्रियों के लिए कोई प्रतिबंध नहीं है। सभी क्षेत्र अनुपालन सुनिश्चित करें।

मीडिया से अपील : अयोध्या में रामलला के दर्शन को लेकर लोगों में उत्साह और उत्सुकता का माहौल है। काफी संख्या में लोग अयोध्या पहुंचे हुए हैं। मीडिया बंधुओ से अनुरोध है कि वह लोग निर्धारित स्थान राम की पैड़ी पर ही अपना कार्य करें। अयोध्या में आ रहे श्रद्धालुओं को सड़क पर ना रोकें।

दोपहर में एक घंटे पहले खोला गया मंदिर : राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि मंदिर सुबह 6:30 बजे आरती के बाद खोला गया जैसे ही मंदिर खुला दर्शन के लिए भक्त उमड़ पड़े। बड़ी संख्या में भक्त राम।लला के दर्शन के लिए दो तीन दिनों से रुके हुए थे। भीड़ को देखते हुए दोपहर में मंदिर एक घंटा पहले ही खोल दिया गया। पहली पाली में ही 50 हजार से अधिक भक्त दर्शन कर चुके हैं।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *