देश-विदेश

लक्षद्वीप : आज से इजरायल का प्रोजेक्ट होगा शुरू, खारे पानी को पीने लायक करेगा

नई दिल्ली : चीनी आकाओं के इशारे पर अपने सबसे बड़े मददगार भारत के खिलाफ आग उगल रहे मालदीव की अकड़ ढीली करने का काम शुरू हो गया है. पीएम मोदी पर मुइज्जू सरकार के 3 मंत्रियों की अभद्र टिप्पणी पर सोशल मीडिया में बॉयकॉट मालदीव का अभियान तेजी से जोर पकड़ रहा है.

इसके चलते सैकड़ों लोग अब तक मालदीव ट्रिप को कैंसल करने का ऐलान कर चुके हैं, जिससे पर्यटन पर आधारित वहां की इकोनॉमी के ढहने का खतरा बढ़ गया है. अब इजरायल भी मालदीव की अक्ल ठिकाने के लिए भारत के साथ खड़ा हो गया है. इजरायल के दूतावास की ओर से लक्षद्वीप में टूरिज्म बढ़ाने के लिए एक ऐसी बड़ी घोषणा की गई, जिससे मालदीव बुरी तरह हिल जाएगा.

9 जनवरी से प्रोजेक्ट पर काम : इजरायल दूतावास ने सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट करके लिखा, ‘हम भारत सरकार के अनुरोध पर पिछले साल लक्षद्वीप में थे. भारत सरकार ने लोगों को पीने का साफ पानी मुहैया करवाने के लिए समुद्र के खारे पानी को मीठे पानी में बदलने की तकनीक लक्षद्वीप में लगाने का आग्रह किया था. हम इस प्रोजेक्ट पर 9 जनवरी यानी मंगलवार से काम शुरू करने वाले हैं.’

लक्षद्वीप के खूबसूरत बीच का लें आनंद : मालदीव को साफ तौर पर इशारा करते हुए इजरायली दूतावास ने कहा, ‘जिन लोगों ने लक्षद्वीप के खूबसूरत बीचों और अंडरवाटर ब्यूटी को अब तक एक्सप्लोर नहीं किया है, उनके लिए हम यहां पर लक्षद्वीप की कुछ खूबसूरत फोटोज दिखा रहे हैं. #ExploreIndianIslands’

लक्षद्वीप में आएगी इजराइल की तकनीक : इजरायल समुद्र के किनारे बसा देश है, जिसका अंदरूनी हिस्सा रेतीली मिट्टी वाला है. वहां पर पानी की भारी कमी है. लेकिन इजरायल अपनी देसी तकनीक विकसित करके समुद्र के खारे पानी को मीठे पानी में बदलना सीख लिया है. इसकी मदद से उसने अपनी जमीन के बड़े हिस्से को हरा-भरा बना लिया है. अब भारत भी इजरायल की इस तकनीक के जरिए लक्षद्वीप में मीठे पानी की कमी की समस्या को दूर करना चाहता है. अगर ऐसा होता है तो लक्षद्वीप न केवल टूरिज्म बल्कि डेवलपमेंट के मामले में तेजी से रफ्तार भर सकेगा.

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *