कर्नाटक-केरल एवं अन्यप्रदेशराजनीति

विस चुनाव : मिजोरम में वोटों की गिनती आज, जोरमथांगा-लालदुहोमा को जीत का भरोसा

आइजोल : पूर्वोत्तर राज्य मिजोरम में 1984 से कभी कांग्रेस तो कभी मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) सरकारें रही है। इस बार यह देखना रोचक होगा कि एमएनएफ के जोरमथांगा अपनी सरकार को बचा पाते हैं या फिर राज्य पूर्व आईपीएस लालदुहोमा की नेतृत्व में बनी नई राजनीतिक पार्टी जोरम पिपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) कोई नई राजनीतिक समीकरण बनाएगी।

मतगणना से पहले मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथांगा ने रविवार को कहा कि अगर उनकी पार्टी एमएनएफ दोबारा सत्ता में लौटती है तो वह राज्य की वित्तीय स्थिति में सुधार के लिए संसाधन जुटाने को प्राथमिकता देंगे। उन्होंने कहा, मुझे विश्वास है कि हम 21 के जादुई आंकड़े को पार करके सरकार बनाने में सक्षम होंगे। हम अन्य दलों की मदद के बिना सरकार बनाएंगे।

मिजोरम विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती सुबह आठ बजे से शुरू होगी। इससे पहले राजधानी आइजोल में मतगणना केंद्र पर तैयारियां चल रही हैं। मतगणना केंद्र के बाहर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

पूर्व आईपीएस लालदुहोमा अपने दम पर मिजोरम में सरकार बनाने की बात कर रहे हैं। जोरम पिपुल्स मूवमेंट (जेएडपीएम)के प्रमुख और मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार लालदुहोमा ने भ्रष्टाचार, रोजगार और विकास के साथ चुनाव मैदान में उतरे थे। उन्होंने कहा, उनको पूरा विश्वास है कि पार्टी अपने दम पर अकेले सरकार बनाने जा रही है। जबकि कांग्रेस इस बार कई गारंटी के साथ मिजोरम चुनाव में उतरी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष लालसावता ने कहा कि जनता का साथ कांग्रेस को मिला है। हम सरकार बनाएंगे।

मिजोरम के मुख्यमंत्री और मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) के अध्यक्ष जोरमथांगा ने त्रिशंकु विधानसभा की संभावना को खारिज किया है। उन्होंने दावा किया कि उनकी पार्टी सत्ता में वापसी करेगी। अगर पार्टी जीतती है तो जोरमथांगा फिर से मिजोरम की कमान संभालेंगे।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *