देश-विदेश

60 हजार फीट की ऊंचाई पर मियां-बीवी में झगड़ा! करनी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंग

नई दिल्ली : इमरजेंसी लैडिंग के बारे में आप जरूर जानते होंगे. इसे लेकर आपने कोई खबर पढ़ी या देखी होगी. है. म्यूनिख से बैंकॉक जा रही एक लुफ्थांसा फ्लाइट को बुधवार को दिल्ली में आपात लैंडिंग करनी पड़ी. ऐसा इसलिए करना पड़ा कि विमान में बेठे एक दंपत्ति के बीज जबरदस्त झगड़ा हो गया.

लुफ्थांसा की फ्लाइट नंबर एलएच 772 को सुबह 10.26 बजे इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे (आईजीआई) पर उतारना पड़ा. इससे पहले विमान के पायलट ने एटीसी से संपर्क कर उन्हें ‘परिस्थिति और संभावित उत्पाती यात्री’ के बारे में सूचना दी थी.

सूत्रों ने बताया कि विमान में सवार एक जर्मन व्यक्ति और उसकी थाई पत्नी के बीच कहासुनी होने के बाद विमान में स्थिति बिगड़ गई जिसके बाद आईजीआई एयरपोर्ट पर उतरने की अनुमति मांगी गई जो दे दी गई. दोनों के बीच झगड़ से परेशान पायलट ने पहले पाकिस्तान मैं लैंडिंग की इजाजत मांगी थी. लेकिन इसकी परमिशिन नहीं मिली. इसके बाद दिल्ली एयरपोर्ट से संपर्क साधा गया.

मीडिया रिपोट्स के मुताबिक अधिकारियों ने बताया कि पति-पत्नी के बीच पहले बहस हो रही थी जो धीरे-धीरे झगड़े में बदल गई. पत्नी ने अपने पति के बर्ताव के बारे में पायलट से शिकायत की और कहा कि उसे धमकाया जा रहा है. वह चाहती थी पायलट झगड़े में बीच-बचाव करे. बढ़ते झगड़े के बाद आखिरकार विमान के क्रू मेंबर्स ने डायवर्ट करने का फैसला किया.

दिल्ली एयरपोर्ट की एविएशन सिक्योरिटी ने एएनआई को बताया, ‘पति-पत्नी के बीच लड़ाई का कारण अभी तक पता नहीं चला है, लेकिन पति-पत्नी के बीच लड़ाई के कारण फ्लाइट को डायवर्ट करना पड़ा.’

एयरलाइन ने एक बयान में कहा, ‘बुधवार, 27 नवंबर को, म्यूनिख से बैंकॉक जाने वाली उड़ान LH772 को एक अनियंत्रित यात्री के कारण दिल्ली की ओर मोड़ दिया गया. संबंधित व्यक्ति को अधिकारियों को सौंप दिया गया. हमारे यात्रियों और चालक दल के लिए विमान में सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है.‘

लड़ाई कर रहे शख्स को उतारकर एयरपोर्ट सिक्युरिटी के हवाले कर दिया गया. सूत्रों के मुताबिक कथित अनियंत्रित यात्री को या तो दिल्ली पुलिस को सौंपने या उसकी माफी पर विचार करने और उसे दूसरी उड़ान से जर्मनी वापस भेजने पर अभी पैसला लिया जाना है.

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *