खेल

IND vs AFG : टी20 सीरीज जीता भारत, अफगानिस्तान को छह विकेट से हराया

इंदौर : भारत और अफगानिस्तान के बीच तीन मैच की टी20 सीरीज का दूसरा मुकाबला टीम इंडिया ने छह विकेट से जीत लिया। यह मैच जीतने के साथ ही टीम इंडिया ने सीरीज भी अपने नाम कर ली। भारत ने घरेलू जमीन पर लगातार छठी टी20 सीरीज जीती है। इसके साथ ही घर में लगातार 15वीं सीरीज में भारत के अजेय रहने का रिकॉर्ड कायम है। अपने घर में भारत आखिरी सीरीज फरवरी 2019 में हारा था। इसके बाद खेली गई 15 सीरीज में दो बराबरी पर छूटी हैं और 13 भारत के नाम रही हैं। दोनों ड्रॉ सीरीज दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली गई थीं।

इस मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने आई अफगानिस्तान की टीम ने 20 ओवर में सभी 10 विकेट खोकर 172 रन बनाए। इसके जवाब में टीम इंडिया ने 15.4 ओवर में चार विकेट खोकर 173 रन बना लिए और छह विकेट से मैच अपने नाम कर लिया। अफगानिस्तान के लिए गुलबदीन नईब ने 57 रन बनाए। भारत के लिए अर्शदीप सिंह ने तीन और रवि बिश्नोई-अक्षर पटेल ने दो-दो विकेट लिए। भारत के लिए यशस्वी जायसवाल ने 68 और शिवम दुबे ने नाबाद 63 रन बनाए। अफगानिस्तान के करीम जनत ने दो विकेट लिए।

यह रोहित शर्मा का 150वां अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच था। वह ऐसा करने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बने। इस मामले में उनके बाद आयरलैंड के लिए 134 मैच खेलने वाले पॉल स्टर्लिंग हैं। हालांकि, शून्य के स्कोर पर आउट होने के साथ ही रोहित ने शर्मनाक रिकॉर्ड भी अपने नाम किया। वह 12 बार अंतरराष्ट्रीय टी20 में शून्य पर आउट हो चुके हैं। रोचक बात यह है कि इस मामले में उनसे आगे सिर्फ पॉल स्टर्लिंग हैं, जो 13 बार शून्य पर आउट हुए हैं।

अक्षर पटेल (2/17) की बेहतरीन गेंदबाजी के बावजूद अफगानिस्तान 172 रन बनाने में सफल रहा। यह गुलबदीन की 35 गेंद में खेली गई 57 रन की पारी रही, जिसने अफगानिस्तान को इस स्कोर तक ले जाने में मदद की। अंत में मुजीब उर रहमान की नौ गेंद में 21 और करीम जनत की 10 गेंद में 20 रन की पारी ने अफगानिस्तान को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया। अंतिम ओवर में अफगानिस्तान के चार विकेट गिरे, जिससे उसकी पारी सिमट गई। अर्शदीप ने 32 रन देकर तीन विकेट लिए।

रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। 14 माह बाद टी-20 टीम में विराट कोहली की वापसी हुई। उन्हें तिलक वर्मा की जगह मौका मिला। वहीं शुभमन गिल के स्थान पर यशस्वी जायसवाल को शामिल किया गया। रहमानुल्लाह गुरबाज ने नौ गेंद मे 14 रन बनाकर तेज शुरुआत दी, लेकिन चौथे ही ओवर में रवि बिश्नोई ने आते ही उन्हें लांग ऑन पर शिवम के हाथों के कैच करा दिया। इसके बाद गुलबदीन ने मोर्चा संभाल लिया। पहले उन्होंने मुकेश पर लगातार दो चौके लगाए। इसके बाद रवि पर छक्का और दो चौके लगाकर पांचवें ओवर में अफगानिस्तान को 50 रन पर पहुंचा दिया। अक्षर ने आते ही कप्तान इब्राहिम जादरान (8) को बोल्ड किया। छह ओवर में अफगानिस्तान का स्कोर दो विकेट पर 58 रन था।

शिवम दुबे ने पिछले मैच की चमक यहां भी बिखेरी और अपने पहले ही ओवर में ओमरजई (2) को बोल्ड कर दिया। हालांकि गुलबदीन ने आक्रामक खेल जारी रखा। नौवें ओवर में उन्होंने शिवम के ओवर में दो छक्के लगाए। इसके बाद उन्होंने 28 गेंद में अपना दूसरा टी-20 अंतरराष्ट्रीय अर्धशतक पूरा किया। 10 ओवर में अफगानिस्तान का स्कोर तीन विकेट पर 81 रन था। अक्षर पटेल ने पिछले मैच की तरह यहां भी शानदार गेंदबाजी की। उन्होंने खतरनाक बन चुके गुलबदीन को मिडविकेट पर रोहित के हाथों कैच कराया। गुलबदीन ने 35 गेंद में पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 57 रन बनाए। अक्षर ने चार ओवर में सिर्फ 17 रन दिए और दो विकेट लिए।

गुलबदीनके आउट होने के बाद अफगानिस्तान के रनों की रफ्तार कुछ धीमी हो गई। 14वें ओवर में मेहमान टीम 100 के स्कोर को छू पाई। इस दौरान नबी का विकेट कीपर जितेश ने कैच भी छोड़ा, लेकिन रवि ने 15वें ओवर में उन्होंने लांग ऑफ पर रिंकू के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 18 गेंद में 14 रन बनाए। अफगानिस्तान ने 15 ओवर में 109 रन पर पांच विकेट खो दिए थे।

नजीबुल्लाह जादरान ने पारी के 17वें ओवर में रवि बिश्नोई पर दो छक्के और चौका लगाकर स्कोर को बढ़ाया, लेकिन अगले ओवर में अर्शदीप ने उन्हें बोल्ड कर दिया। उन्होंने 21 गेंद में 23 रन बनाए। 19वें ओवर में करीम जनत ने शिवम पर चौका और छक्का लगाया। इसके बाद मुजीब उर रहमान ने भी छक्का जड़ अफगानिस्तान को 150 पार पहुंचा दिया। जनत (20) को अर्शदीप ने 20वें ओवर की पहली गेंद पर आउट किया। मुजीब भी इसी ओवर में नौ गेंद में 21 रन बनाकर रन आउट हुए। अफगानिस्तान ने अंतिम पांच ओवर में 63 रन बनाए।

173 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने पहले ही ओवर में कप्तान रोहित को खो दिया। हालांकि, यशस्वी जायसवाल और विराट कोहली ने पहली गेंद से ही आक्रामक बल्लेबाजी की। जायसवाल ने मुजीब के दूसरे ओवर में 19 रन बटोरे और पांचवें ओवर में ही भारत का स्कोर 50 रन के पार पहुंचा गया। इसके बाद विराट कोहली 16 गेंद में पांच चौकों की मदद से 29 रन बनाकर आउट हो गए। नवीन उल हक ने उन्हें इब्राहिम के हाथों कैच कराया।

विराट के आउट होने के बाद यशस्वी और शिवम ने आक्रामक बल्लेबाजी जारी रखी। जायसवाल ने 10वें ओवर में अपना अर्धशतक और टीम का शतक पूरा किया। उन्होंने 27 गेंद में अर्धशतक लगाया। 12वें ओवर में शिवम दुबे ने भी अपना अर्धशतक पूरा कर लिया। इसके लिए उन्होंने सिर्फ 22 गेंदें लीं। इस सीरीज में यह उनका लगातार दूसरा अर्धशतक था। अगले ओवर में जायसवाल करीम जनत का शिकार बने। उन्होंने 34 गेंद में पांच चौकों और छह छक्कों की मदद से 68 रन बनाए। जायसवाल के बाद जितेश भी खाता खोले बिना चलते बने। करीम की गेंद पर नबी ने उनका कैच पकड़ा।

अंत में शिवम दुबे ने रिंकू सिंह के साथ भारतीय टीम को जीत की दहलीज के पार पहुंचाया। 32 गेंद में पांच चौकों और चार छक्कों की मदद से 63 रन बनाकर नाबाद रहे। यह उनके टी20 करियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। रिंकू सिंह नौ गेंद में नौ रन बनाकर नाबाद रहे। अफगानिस्तान के लिए करीम जनत ने दो विकेट लिए। फजलहक फारुकी और नवीन उल हक को एक-एक विकेट मिले।

सीरीज का तीसरा और आखिरी टी20 मैच बुधवार को बेंगलुरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाएगा। हालांकि, भारतीय टीम पहले ही सीरीज अपने नाम कर चुकी है, लेकिन टी20 विश्व कप की तैयारी के लिहाज से यह मुकाबला भारत के लिए अहम है।

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *