प्रदेशमध्य प्रदेश एवं छत्तीसगढ़

MP : बीजेपी के विजय जुलूस पर फेंका खौलता पानी, 4 लोगों पर FIR दर्ज

भोपाल : मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (BJP) की प्रचंड जीत के बाद पार्टी के समर्थकों और कार्यकर्ताओं में जबरदस्त उत्साह है. प्रचंड के जीत के बाद बीजेपी के समर्थकों और कार्यकर्ता के द्वारा यहां निकाले गए जुलूस में शामिल लोगों के साथ मारपीट और उन पर घर की छत से खौलता पानी फेंकने का मामला सामने आया है. इस आरोप के बाद एक परिवार के चार लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार (4 दिसंबर) को यह जानकारी दी.

इस संबंध में पुलिस अधिकारी ने बताया कि खजराना थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है कि पार्टी का विजयी जुलूस निकाला जा रहा था. इसी दौरान जब विजयी जुलूस तीन दिसंबर की रात वकील पठान नाम के व्यक्ति के घर के पास पहुंची, तो उसने जुलूस का विरोध करना शुरू कर दिया और विवाद करते हुए जुलूस में शामिल लोगों से मारपीट और गाली-गलौज करने लगा. अधिकारी ने प्राथमिकी के हवाले से बताया कि पठान के कहने पर उसकी पत्नी शबनम ने जुलूस में शामिल लोगों पर घर की छत से कथित रूप से खौलता पानी फेंका.

इस मामले में कार्रवाई को लेकर पुलिस ने बताया कि आरोपी वकील पठान, उसकी पत्नी शबनम और उनके दोनों बेटों शेरू और शकील के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 294 (गाली-गलौज), धारा 323 (मारपीट), धारा 324 (खतरनाक साधनों से जान-बूझकर चोट पहुंचाना) और 506 (धमकाना) के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है. खजराना थाना प्रभारी उमराव सिंह ने कहा,’प्राथमिकी से जुड़ा विवाद बड़ा नहीं है. मामले की विस्तृत जांच की जा रही है.’

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए लगाए जा रहे सभी अटकलों और कयासों को खारिज करते हुए 163 सीटों पर जीत हासिल की है. जबकि कांग्रेस महज 66 सीटों पर सिमट कर रह गई और एक सीट भारत आदिवासी पार्टी के खाते में गई है. बीजेपी की रिकॉर्ड जीत के बाद कार्यकर्ताओं और समर्थकों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिल रहा है. 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव से मध्य प्रदेश सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव को केंद्र की सत्ता का सेमीफाइनल माना जा रहा है. हालांकि बीजेपी प्रचंड जीत के बाद पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने पोस्टल बैलेट वोटों के आधार पर ईवीएम की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े किए हैं.

NewsXpoz Digital

NewsXpoz Digital ...सच के साथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *